आशा को मिला राष्ट्रीय टीचिंग एक्सीलेंस अवार्ड

छत्तीसगढ़ व्यक्तित्व समसामयिक

बिलासपुर। राष्ट्रीय स्तर पर टीचिंग एक्सीलेंस अवार्ड-2020 के विजेताओं की घोषणा कर दी गई है। चुने गए प्रतिभागियों में कोरबा की शिक्षिका आशा सिंह सूर्यवंशी का भी चयन हुआ है। आशा ने देशभर में चयनित उन 21 शिक्षकों की चुनिंदा सूची में जगह बनाई है, जिन्हें शिक्षण के क्षेत्र में दिए गए उत्कृष्ट योगदान के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया है।
फोर्थ स्क्रीन एजुकेशन व आई ड्रीम लर्निंग ऐप के सहयोग से वर्ष 2020 के लिए राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित हो रहे टीचिंग एक्सीलेंस अवार्ड के विजेताओं बीहड़ वनांचल क्षेत्र में शिक्षा दूत बनकर कार्य कर रही प्राथमिक शाला खेतारपारा की शिक्षिका आशा सिंह सूर्यवंशी विजेता चुनी गई हैं। विकासखंड कोरबा अंतर्गत जनशिक्षा केंद्र परसा भाठा के इस स्कूल की शिक्षिका को सम्मान मिलने से शिक्षा के क्षेत्र में कोरबा का मान बढ़ा है। देशभर से चुने गए 200 फाइनलिस्ट में आनलाइन वोटिंग के आधार पर सर्वाधिक वोट मिलने वाले 21 शिक्षकों को टीचिंग एक्सीलेंस अवार्ड से नवाजा गया है। राष्ट्रीय स्तर पर वनांचल क्षेत्र की शिक्षिका को सम्मान मिलने पर वनांचल क्षेत्र के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं, विद्यालय, ग्राम, परिचितों, मित्रों, शिक्षकों में अत्यंत हर्ष व्याप्त है।
अपने शैक्षिक नवाचारों से कर रहे प्रेरित
जूरी सदस्यों ने इनके अलावा अन्य 13 शिक्षकों का भी विजेता के रूप में चयन किया है, जिनके उत्कृष्ट कार्यों व नवाचारों ने सदैव दूसरों को प्रेरित किया है। इस पुरस्कार का आयोजन फोर्थ स्क्रीन एजुकेशन व आई ड्रीम लर्निंग ऐप की ओर से किया गया। इस मंच से शैक्षिक नवाचारों को अपनाते हुए छात्र हित के लिए कार्य किए जा रहे। आई ड्रीम एजुकेशन शासकीय स्कूल के छात्रों तक स्थानीय भाषा में एप व टेबलेट से डिजिटल लर्निंग कंटेंट पहुचाने में योगदान दिया जा रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *