इंस्पायर अवार्ड मानक योजना में छत्तीसगढ़ को देश में तीसरा स्थान

छत्तीसगढ़

राज्य के 3391 विचारों का चयन मानक अवार्ड के लिए
रायपुर / भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा इंस्पायर अवार्ड मानक योजना के अंतर्गत विज्ञान एवं सामाजिक अनुप्रयोगों में मूल विचार एवं नवाचारों के नामांकन के लिए छत्तीसगढ़ को देश के तृतीय सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में चयनित किया गया है। इंस्पायर अवार्ड मानक योजना के तहत राज्य से विज्ञान एवं सामाजिक अनुप्रयोगों में मूल विचारों एवं नवाचारों हेतु भेजे गए कुल 55 हजार 565 नामांकन में से 3391 विचारों एवं नवाचारों का चयन मानक अवार्ड के लिए किया गया है।
भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव आशुतोष शर्मा ने छत्तीसगढ़ राज्य के प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा डॉ. आलोक शुक्ला को प्रेषित पत्र में छत्तीसगढ़ राज्य की इस उल्लेखनीय उपलब्धि की सराहना की है। उन्होंने इंस्पायर अवार्ड मानक योजना के तहत मूल विचारों एवं नवाचारों को बेहतर बनाने के लिए विभाग द्वारा शिक्षकों का प्रशिक्षण राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेशों में किए जाने तथा इसके लिए सलाहकार डॉ. संजय मिश्रा, संचालक डॉ. विपिन कुमार को इसके लिए राज्यों के शिक्षा विभाग से संपर्क किए जाने की जानकारी दी है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि इस कार्यक्रम को सफल बनाने और शिक्षकों को युवा छात्रों के बीच रचनात्मक नवाचार की बेहतर समझ और प्राकृतिक संस्कृति के प्रशिक्षण के लिए आपका आवश्यक सहयोग एवं मार्गदर्शन प्राप्त होगा। गौरतलब है कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा सफलतापूर्वक इंस्पायर अवार्ड मानक योजना 10 से 15 वर्ष की उम्र के बच्चे जो कि कक्षा छठवीं से कक्षा दसवीं में अध्ययरत हैं, उन्हें विज्ञान और सामाजिक अनुप्रयोगों की तरफ आकर्षिक और प्रेरित करने उनमें महत्वपूर्ण विचार एवं नवप्रवर्तन की भावना उत्पन्न करने के लिए संचालित किया जा रहा है। इस योजना का उद्देश्य नवसृजन एवं नवाचार, रचनात्मक और अभिनव सोच को स्कूली छात्रों में बढ़ावा देना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *