छत्तीसगढ़ मंत्रिमंडल

छत्तीसगढ़ व्यक्तित्व

भूपेश बघेल- छत्तीसगढ़ के तीसरे नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्म 23 अगस्त 1961 को राजधानी रायपुर में हुआ। उनके पिता श्री नंदकुमार बघेल दुर्ग जिले के पाटन क्षेत्र के प्रगतिशील कृषक हैं।
भूपेश बघेल तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश की विधानसभा के लिए पहली बार वर्ष 1993 में विधायक निर्वाचित हुए। इसके बाद उन्होंने वर्ष 1998, वर्ष 2003 और वर्ष 2013 में भी विधायक के रूप में क्रमश: मध्यप्रदेश और राज्य बनने के बाद छत्तीसगढ़ की विधानसभा में पाटन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। श्री बघेल पांचवी बार इस वर्ष 2018 में छत्तीसगढ़ विधानसभा के आम चुनाव में पाटन क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुए। भूपेश बघेल तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार में वर्ष 1998 में मुख्यमंत्री से सम्बद्ध राज्य मंत्री और जनशिकायत निवारण विभाग के स्वतंत्र प्रभार के राज्य मंत्री के रूप में, वर्ष 1999 में परिवहन विभाग के मंत्री के रूप में और वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ राज्य के गठन के बाद छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व, पुनर्वास, राहत कार्य और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभागों के मंत्री के रूप में सेवाएं दी।
श्री त्रिभुवनेश्वर शरण सिंहदेव- श्री त्रिभुवनेश्वर शरण सिंहदेव का जन्म 31 अक्टूबर 1952 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हुआ। उनके पिता सरगुजा स्वर्गीय श्री एम.एस. सिंहदेव हैं। श्री टी.एस. सिंहदेव ने भोपाल के हमीदिया कॉलेज से इतिहास में एम.ए. की डिग्री प्राप्त की है। वे वर्ष 1983 में सरगुजा जिले के मुख्यालय अम्बिकापुर नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष चुने गए। वर्ष 2008, वर्ष 2013 और 2018 में वे छत्तीसगढ़ विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए। वर्ष 2008 में उन्होंने विधानसभा की लोक लेखा समिति, सरकारी उपक्रमों समिति और याचिका समिति के सदस्य के रूप में कार्य किया। वे 6 जनवरी 2014 से छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रहे।
श्री ताम्रध्वज साहू – श्री ताम्रध्वज साहू का जन्म 06 अगस्त 1949 को बेमेतरा जिले के ग्राम पतोरा में हुआ। उनके पिता श्री मोहन लाल साहू और माता स्वर्गीय श्रीमती जियन बाई साहू हैं । श्री ताम्रध्वज साहू ने शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दुर्ग से हायर सेकेण्डरी की शिक्षा ग्रहण की। वर्ष 1998 से 2000 तक वे अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य रहे। वर्ष 2000 से 2003 तक उन्होंने छत्तीसगढ़ शासन में राज्य मंत्री के रूप में अपनी सेवाएं दी। वर्ष 2003, वर्ष 2008 और वर्ष 2018 में वे छत्तीसगढ़ विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए। मई 2014 में वे दुर्ग लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से 16वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए।
श्री रविन्द्र चौबे- श्री रविन्द्र चौबे का जन्म 28 मई 1957 को हुआ। उनके पिता का नाम स्वर्गीय श्री देवी प्रसाद चौबे है। श्री रविन्द्र चौबे बेमेतरा जिले के साजा तहसील के ग्राम मोैंहाभाठा निवासी हैं। उन्होंने पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय रायपुर से बी.एस.सी. और एल.एल.बी. की डिग्री हासिल की है। वे छात्र संघ के अध्यक्ष रहे। वे साजा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। इसके पहले श्री चौबे वर्ष 1985, 1990, 1993 और 1998 में अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा और वर्ष 2003 तथा 2008 में छत्तीसगढ़ विधानसभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित हुए। वे अविभाजित मध्यप्रदेश और छत्तीसग? में मंत्री रह चुके हैं। वे छत्तीसगढ़ विधानसभा में वर्ष 2009 से 2013 तक नेता प्रतिपक्ष रहे हैं।
डॉ. प्रेमसाय सिंह- डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम सूरजपुर जिले की तहसील प्रतापपुर के ग्राम अमनदोन के निवासी हैं। वे प्रतापपुर निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। इनके पिता का नाम स्वर्गीय श्री मंजन सिंह टेकाम है। डॉ. प्रेमसाय सिंह ने रायपुर के शासकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय से बी.ए.एम.एस की डिग्री प्राप्त की है। डॉ. प्रेमसाय सिंह मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री रह चुके हैं।
श्री मोहम्मद अकबर- श्री मोहम्मद अकबर रायपुर निवासी हैं। उनके पिता का नाम मोहम्मद रसीद है। वर्तमान में वे कवर्धा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने दुर्गा महाविद्यालय रायपुर से बी.कॉम की डिग्री प्राप्त की है। श्री मोहम्मद अकबर छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री रह चुके हैं।
श्री कवासी लखमा- श्री कवासी लखमा सुकमा जिले के ग्राम नागारास निवासी हैं। उनके पिता का नाम श्री कवासी है। वे चौथी बार विधायक निर्वाचित हुए हैं। वर्तमान में श्री लखमा कोन्टा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
डॉ.शिवकुमार डहरिया – डॉ. शिवकुमार डहरिया रायपुर निवासी हैं। उनके पिता का नाम श्री आशाराम डहरिया है। वे आरंग निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। डॉ. डहरिया ने रायपुर के शासकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय से बी.ए.एम.एस की डिग्री प्राप्त की है।
श्रीमती अनिला भेंडिय़ा- श्रीमती अनिला भेंडिय़ा डौडीलोहारा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुई हैं। उनके पति श्री रविन्द्र कुमार भेंडिय़ा हैं। वे बालोद जिले के विकासखंड मुख्यालय डौडीलोहारा की निवासी हैं। श्रीमती भेंडिय़ा इसके पहले वे वर्ष 2013 में छत्तीसगढ़ विधानसभा की सदस्य निर्वाचित हुई हैं।
श्री जय सिंह अग्रवाल- श्री जय सिंह अग्रवाल कोरबा के निवासी हैं। श्री अग्रवाल का जन्म 01 मार्च 1963 को हुआ। उनके पिता का नाम स्वर्गीय श्री रामकुमार अग्रवाल है। वे छात्र संघ के अध्यक्ष रहे। वे अविभाजित मध्यप्रदेश में वर्ष 1996 से 1998 तक साडा अध्यक्ष रहे। वे कोरबा निर्वाचन क्षेत्र से तीसरी बार विधायक निर्वाचित हुए हैं।
श्री गुरू रूद्रकुमार- श्री गुरू रूद्रकुमार रायपुर निवासी हैं। उनके पिता श्री विजय कुमार गुरू हैं। उन्होंने दुर्गा महाविद्यालय रायपुर से बी.ए. की डिग्री प्राप्त की हैं। वर्तमान में वे अहिरवारा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। वे छत्तीसगढ़ विधानसभा में दूसरी बार निर्वाचित हुए हैं।
श्री उमेश पटेल – श्री उमेश पटेल रायगढ़ जिले के ग्राम नंदेली निवासी हैं। वे स्वर्गीय श्री नंद कुमार पटेल के पुत्र हैं। वर्तमान में वे खरसिया निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने भिलाई इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी दुर्ग से इनफरमेशन टेक्नालॉजी में बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की है। वे छत्तीसगढ़ विधानसभा में दूसरी बार निर्वाचित हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *