‘सीख ‘ की प्रगति देखने पहुंची यूनिसेफ की टीम

छत्तीसगढ़ समसामयिक

रायगढ़ जिले के तमनार विकासखण्ड में चलाये जा रहे ‘सीख ‘ कार्यक्रम की मॉनिटरिंग के लिए यूनिसेफ की टीम रायगढ़ पहुंची। यूनिसेफ के अधिकारियों द्वारा विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों का दौरा कर बच्चों के पालकों तथा शिक्षकों से कार्यक्रम के संचालन का फीडबैक लिया। जिसके पश्चात यूनिसेफ की टीम द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत रायगढ़ सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी को कार्यक्रम के प्रगति के बारे में बताते हुए भविष्य में इसे और सघनतापूर्वक लागू करने के लिए बनायी गयी कार्ययोजना के विषय में अवगत कराया गया।
यूनिसेफ की टीम ने सराईपाली एवं गौरमुड़ी के पालकों एवं बच्चों से वाट्सअप के द्वारा की जाने वाली पढ़ाई के बारे में जानकारी ली। माताएं अपने बच्चों के लिए लर्निंग कार्नर बनाकर उन्हें मोबाइल से आने वाले सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार के वीडियो एवं ऑडियो सामग्री से बच्चों को अवगत कराती है। गौरमुड़ी की प्रधान पाठिका श्रीमती अनुपमा भोय ने उसी विडियो संदेश में बच्चों को होमवर्क करने के लिए भी प्रेरित किया। इसी कड़ी में प्राथमिक शाला सराईपाली में पदस्थ प्रधान पाठिका श्रीमती रामबाई भगत एवं श्रीमती सुरूचि सिदार ने स्मार्ट फोन की सुविधा विहीन बच्चों को चिन्हांकित कर उन्हें स्मार्ट फोन की सुविधा वाले बच्चों के घरों में मोबाइल से पढऩे की व्यवस्था करवायी है। प्राथमिक शाला के प्रधान पाठक अरूण कुमार भोय ने पालको के फीडबैक सहित दैनंदिनी प्रस्तुत किया गया, जिसे यूनिसेफ की टीम द्वारा सराहा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *